ध्यान-योग (मैडिटेशन) क्या हैं? | ध्यान-योग (मैडिटेशन) का अभ्यास कैसे करें।

yoga asanas.

ध्यान-योग (Meditation-Yoga) आज के जीवनकाल में योग एवं ध्यान करना हर व्यक्ति के स्वास्थ जीवन जीने के लिए बहुत ही अवश्य हैं, ध्यान अंतर् आत्मा को प्रसन्न करता हैं, मन को शांत करने के लिए ध्यान सबसे महत्वपूर्ण अभ्यास है। एक शांत मन स्वस्थ, सुखी और सफल जीवन जी सकता है। योग एवं ध्यान की अद्भुत शक्ति से हम विभिन्न … Read more

स्वास्थ्य-फ़िटनेस का अर्थ क्या है? | स्वास्थ्य-फिटनेस का अर्थ बताइए।

svasth kaise rahen.

स्वास्थ्य-फ़िटनेस (Health-Fitness) स्वास्थ्य-फिटनेस का पहले से गहरा संबंध रहा है, क्योंकि फिटनेस को पहले परिभाषित किया गया था, क्योंकि इस खेल में स्वास्थ्य की अच्छी स्थिति पर निर्मित अच्छा शारीरिक आकार शामिल है। विभिन्न खेलों का अभ्यास करने वाले लोगों के स्वास्थ्य की स्थिति हमेशा प्रशिक्षकों के ध्यान में रहती है। हालांकि, ऐसे कई खेल … Read more

अष्टांग नमस्कार के 12 स्वास्थ्य लाभ।

अष्टांग नमस्कार (Ashtang Namaskar) इसके नियमित अभ्यास से मानसिक तनाव से मुक्ति मिलती है। वजन और मोटापा घटाने में भी बेहद लाभकारी है। इसके अभ्यास से साधक का शरीर निरोगी और स्वस्थ रहता है। इस आसन को बच्चों से लेकर बड़ों तक, स्त्री हो या पुरुष कोई भी कर सकता है। अष्टांग नमस्कार योग आसन … Read more

अष्टांग नमस्कारासन के महत्व एवं लाभ बताइए?

Ashtaang Namaskarasan ke Mahatv evm Labh Bataiye

अष्टांग नमस्कारासन- इस आसन को सूर्य नमस्कार आसन या “सूर्य नमस्कार” आसन के रूप में भी जाना जाता है। यह 12 मुद्राओं का एक संयोजन है और प्रत्येक आसन इसके अद्वितीय लाभ प्रदान करता है। अष्टांग नमस्कार आसन के महत्व और लाभ इस आसन का सार सूर्य देवता को नमस्कार है, जो इस दुनिया में सभी … Read more

योग अभ्यास के लाभ बताइए?

yog abhyaas ke laabh bataiye

योग अभ्यास- योग़ एवं योग के लाभ को उदारतापूर्वक एक हिंदू अनुशासन के रूप में परिभाषित किया गया है जो शरीर और मन को एकजुट करने में मदद करता है। पूर्ण आध्यात्मिक अंतर्दृष्टि और शांति की स्थिति को प्राप्त करने के उद्देश्य से, यह पश्चिम में सबसे अधिक अभ्यास किया जाता है, जैसा कि शारीरिक … Read more

सुखासन योग कैसे किया जाता है? सुखासन योग करने से लाभ।

सुखासन योग करने से लाभ- (Benefits of doing Sukhasana Yoga) – ध्यान के लिए यह उत्कृष्ट आसन है। भोजन करते समय इस आसन का उपयोग हितकारी होता हैं। जो ध्यान के लिए पदमासन लगाने में असमर्थ हैं वे इस आसन का उपयोग कर सकते हैं। पूजा-पाठ में यह आसन अधिकतर किया जाता हैं, एवं लाभदायक … Read more

ग्रीवासन करने की विधि एवं ग्रीवासन करने से लाभ।

ग्रीवासन- (Greevaasan)  यह आसन शरीर मे लचक और कमर में स्ट्रेच को बढ़ाता हैं यह आसन शरीर में रक्त संचार बढ़ता हैं,  इस आसन से पूर्ण शरीर मे रक्त का प्रवाह अच्छे से होता हैं। आज हम ‘ग्रीवासन करने की विधि’ एवं ‘ग्रीवासन करने से लाभ’ जानने वाले हैं। ग्रीवासन करने की विधि- (Method of Greevaasan)  … Read more

सर्वांगासन करने की विधि एवं सर्वांगासन के लाभ बताइए।

सर्वांगासन (Sarvangasana)  सर्वांगासन का शाब्दिक अर्थ सर्व का अर्थ पूरा पूर्ण या सभी है और अंग का अर्थ शरीर का भाग हैं चूँकि इस आसन में सभी अंग से योग क्रियाएं हो जाती हैं, और पूरा शरीर लाभाविन्त होता हैं इसलिए इस आसन का नाम सर्वांगासन हैं। हम जानेंगे ‘सर्वांगासन’ कैसे किया जाता हैं विधि? … Read more

हलासन कैसे किया जाता हैं?

halaasan kaise kiya jaata hain

हलासन योग- (Halasan Yoga) शाब्दिक अर्थ: हल का अर्थ है लांगल। खेतों में उपयोग किया जाने वाले एक औजार का नाम हल यानी जमीन को जोतने वाला एक कृषि यंत्र और आसन का अर्थ मुद्रा यानी शारीरिक अवस्था से है। इस आसन को करते हुए शरीर का आकार हल की तरह दिखाई देता है, इसलिए … Read more

आष्टांग नमस्कारासन कैसे किया जाता हैं?

ashtaang namaskarasan kaise kiya jata hain.

आष्टांग नमस्कारासन- आष्टांग का अर्थ आठ अंगों सहित। नमस्कार का अर्थ प्रणाम करना। शरीर के आठों अंगों ( दोनों पैर, दोनों हाथ, दोनों घुटनों, छाती एवं ठुड्डी) को झुकाकर नमन करना या प्रणाम करना। इस कारण इस आसान को अष्टांग नमस्कारासन कहा जाता है। इसकी स्थिति और सिद्धि के निमित्त कतिपय उपाय आवश्यक होते हैं जिन्हें … Read more

एकपाद शीर्षासन करने की विधि एवं लाभ बताइए?

ekapaad sheershaasan karane kee vidhi evan laabh bataiye

एक पाद शीर्षासन- इस आसन में एक पैर ज़मीन पर और एक पैर ऊपर उठाकर शीर्षासन किया जाता हैं। व इसे एकपाद शीर्षासन कहते हैं। रोग प्रतिरोध शक्ति को बढाता है एकपाद सिरसासन एकपाद सिरसासन विभिन्न विधियों से किया जाता है। बैठकर, खडे़ होकर दोनों तरह से किए जाने वाले इस आसन से अलग-अलग रोग … Read more

शीर्षासन करने की विधि एवं लाभ बताइए?

sheershaasan.

शीर्षासन- शीर्षासन का अर्थ- शीर्ष का अर्थ यहाँ पर सिर के अग्रभाग से हैं। इसमें साधक सिर के अग्रभाग से आसान करता हैं, अतः इसे शीर्षासन कहा गया हैं। सिर के बल किए जाने की वजह से इसे शीर्षासन कहते हैं। शीर्षासन एक ऐसा आसन है जिसके अभ्यास से हम सदैव कई बड़ी-बड़ी बीमारियों से … Read more

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)