स्वास्थ्य-फ़िटनेस का अर्थ क्या है? | स्वास्थ्य-फिटनेस का अर्थ बताइए।

svasth kaise rahen.

स्वास्थ्य-फ़िटनेस (Health-Fitness) स्वास्थ्य-फिटनेस का पहले से गहरा संबंध रहा है, क्योंकि फिटनेस को पहले परिभाषित किया गया था, क्योंकि इस खेल में स्वास्थ्य की अच्छी स्थिति पर निर्मित अच्छा शारीरिक आकार शामिल है। विभिन्न खेलों का अभ्यास करने वाले लोगों के स्वास्थ्य की स्थिति हमेशा प्रशिक्षकों के ध्यान में रहती है। हालांकि, ऐसे कई खेल … Read more

नियमित व्यायाम करने के 10 स्वास्थ्य लाभ।

swasth rehne ke 7 asan niyam

व्यायाम: व्यायाम वह गतिविधि है जो हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के साथ-साथ व्यक्ति के समग्र स्वास्थ्य को भी बढाती है, एवं लाभ पहुचने का काम करती हैं। यह कई अलग अलग कारणों के लिए किया जाता है। जिनमे शामिल हैं- मांसपेशियों को मजबूत बनाना। हृदय प्रणाली को सुदृढ़ बनाना। एथलेटिक कौशल बढाना। वजन घटाना … Read more

स्वास्थ्य एवं फ़िटनेस का अर्थ बताइये?

svaasthy aur fitanes ka arth bataiye

स्वास्थ्य एवं  फ़िटनेस- स्वास्थ्य और फिटनेस का पहले से गहरा संबंध रहा है, स्वास्थ्य और फ़िटनेस का अर्थ बताइये? क्योंकि फिटनेस को पहले परिभाषित किया गया था, क्योंकि इस खेल में स्वास्थ्य की अच्छी स्थिति पर निर्मित अच्छा शारीरिक आकार शामिल है। विभिन्न खेलों का अभ्यास करने वाले लोगों के स्वास्थ्य की स्थिति हमेशा प्रशिक्षकों के … Read more

सूर्य नमस्कार कैसे किया जाता हैं?

Surya Namaskaar Kaise Kiya Jata Hain

सूर्य नमस्कार- सूर्य देव को नमस्कार। सूर्य देव को अच्छे स्वास्थ्य और लंबी आयु देने वाले भगवान माने जाते हैं। प्राचीन समय मे सूर्य नमस्कार दिनचर्या का एक हिस्सा था। और आध्यात्मिक जीवन का भी अंग था। सूर्य नमस्कार योगासन और प्राणायाम का सयोगः हैं, यह प्रारम्भिक अभ्यास और योगासन के बीच किया जाता हैं। … Read more

सूर्य नमस्कार के चरण।

सूर्यनमस्कार- सूर्यनमस्कार का शाब्दिक अर्थ है सूर्य को अर्पण करना।  आज हम आपको बताने वाले हैं, सूर्य नमस्कार कितने प्रकार के होते हैं और उनको करने से क्या क्या फ़ायदे है। सूर्य नमस्कार 12 मुद्राओ में किया जाने वाला एक योग हैं। इसके अभ्यास से शरीर निरोग होता हैं। इन मुद्राओं में शरीर को कमर से … Read more

स्वस्थ कैसे रहें?

svasth kaise rahen.

  स्वस्थ कैसे रहें- अगर प्रकृति का इरादा आपको जीवित रखने का नहीं होता, तो आप मर गए होते, अब भी आप उन दवाओं के कारण, जो आपने ली हैं या हेल्थ चेकअप और अपने अस्पताल की सलाह के कारण जीवित नहीं हैं, बल्कि इसलिए जीवित हैं क्योंकि प्रकृति अभी आपको जीवित रखना चाहती है। … Read more

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)